सूरज से गुफ्तगू #34

तू ख्वाब है मेरा पर पूरा नहींतू मेरा है पर मेरा नहींतू प्यार है मेरा पर अधूरा नहींतू सूरज है पर सवेरा क्यों नहीं Read More: सूरज से गुफ्तगू #33

सूरज से गुफ्तगू #29

तू आया तो है फिर से आजपर तू सवेरा नहीं, अँधेरा लाया हैक्या बात हुई, क्या कोई बात अधूरी छूटिया फिर बस मेरे अंदर का अन्धेरा तुज पर भी छाया हैं Read more: सूरज से गुफ्तगू #28

Seven B&W Photos; Day 5

Morning newspaper and a cup of coffee. Sometimes sheer pleasure and the other times, well, the other times the alarm is constantly being snoozed, leaving me no time to grab and cherish them. I am participating in the Seven Days. Seven Black and White Photos of Your Life. No People. No Explanation. Challenge Someone NewContinue reading “Seven B&W Photos; Day 5”