सूरज से गुफ्तगू #2

आज फिर छुप गया था वो मुझसे न जाने कम्बखत कितनी कहानिया छुपा रहा था मुझसे. कुछ और शिकायते सूरज से : सूरज से गुफ्तगू #1